मार्च माह के लिए शत-प्रतिशत गेहूं का आवंटन

मार्च माह के लिए शत-प्रतिशत गेहूं का आवंटन

जयपुर, 8 फरवरी। राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा अधिनियम के तहत लक्षित सार्वजनिक प्रणाली अंतर्गत प्रदेश के अन्त्योदय एवं अन्य पात्रा परिवारों लाभार्थियों के लिए मार्च माह के लिए जिला रसद अधिकारियों की मांग के अनुरूप शत-प्रतिशत गेहूं का आवंटन किया गया है।

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग की शासन सचिव मुग्धा सिन्हा ने बताया कि इस आवंटन के तहत प्रदेश के कुल 33 जिलों को 2,28,694 मैट्रिक टन गेहूं का आवंटन किया गया है, उन्होंने निर्देशित किया है कि सभी जिला रसद अधिकारी यह सुनिश्चित करें कि बिना समयावधि बढाए गेहूं का पूर्ण उठाव कर लाभार्थियों तक शत प्रतिशत गेहूं का वितरण किया जावे। उन्होंने निर्देशित किया है कि राष्ट्रीय खाद्य सुरक्षा योजना में चयनित सभी पात्रा लाभार्थियों एवं परिवारों को खाद्यान्न उपलब्ध करवाना अनिवार्य है।

खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति विभाग की उपायुक्त एवं संयुक्त शासन सचिव अंजू राजपाल के अनुसार अजमेर जिले को 8124 मैट्रिक टन, अलवर को 12811 मैट्रिक टन, बांसवाडा को 9220 मै. टन, बारां को 5463 मै. टन, बाडमेर 9723 मै. टन, भरतपुर व भीलवाड को 8015 मै. टन, बीकानेर 7169 को मैट्रिक टन, बूंदी 3499 को मैट्रिक टन, चित्तौडगढ को 5595 मैट्रिक टन, चुरू को 7046 मैट्रिक टन, दौसा को 5625 मैट्रिक टन, धौलपुर को 4278 मैट्रिक टन, डूंगरपुर को 7207 मैट्रिक टन, गंगानगर को 5651 मैट्रिक टन, हनुमानगढ को 4965 मैट्रिक टन, जयपुर को 14108 मैट्रिक टन, जैसलमेर को 2185 मैट्रिक टन, जालोर को 6211 मैट्रिक टन, झालावाड को 5565 मैट्रिक टन गेहूं का आवंटन किया गया है।

इसी प्रकार झुन्झुनूं 5510 मैट्रिक टन, जोधपुर 10371 मैट्रिक टन, करौली 5260 मैट्रिक टन, कोटा 5036 मैट्रिक टन, नागौर 10987 मैट्रिक टन, पाली 6892 मैट्रिक टन, प्रतापगढ 3995 मैट्रिक टन, राजसमंद 4363 मैट्रिक टन, सवाईमाधोपुर 4447 मैट्रिक टन, सीकर 8638 मैट्रिक टन, सिरोही 4261 मैट्रिक टन, टोंक 4884 मैट्रिक टन एवं उदयपुर को 13575 गेहूं का आवंटन किया गया है

Leave a Reply